सेंटर फ्रेश ने पेश किया नया ट्रैक ‘ताज़ी सांस, ताज़ी सोच’

सेंटर फ्रेश ने पेश किया नया ट्रैक ‘ताज़ी सांस, ताज़ी सोच’

कोलकाता: भारत का अग्रणी गम एण्ड मिंट ब्राण्ड सेंटर फ्रेश ने म्युज़िक चैनल एमटीवी इंडिया के साथ साझेदारी की घोषणा की है। इस साझेदारी के तहत ब्राण्ड एक स्पेशल ट्रैक ‘ताज़ी सांस, ताज़ी सोच’ लॉन्च करने जा रहा है, जो पूरी तरह देश के युवाओं तथा देश में वर्तमान में चल रहे स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों को समर्पित है।

युवाओं की संवदेनशीलता, उनकी नई सोच और नए विचार इस बात को दर्शाते हैं कि किस तरह उन्होंने पूरी बहादुरी के साथ महामारी की दूसरी लहर का मुकाबला किलया है। इसी नई भावना को जाने-माने रैपर कृस्ना टै्रक ‘ताज़ी सांस, ताज़ी सोच’ में लेकर आए हैं, जिसें सेंटर फ्रेश ने एंडोर्स किया है।

इस गीत का वीडियो दर्शाता है कि कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान किस तरह युवाओं ने मदद के लिए हाथ बढ़ाएं, भोजन और मास्क दान देने से लेकर, प्रवासी मज़दूरी की मदद की, युवा डॉक्टरों ने अपनी जान पर खेलकर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराईं, सोशल मीडिया के ज़रिए लोगों ने ज़रूरतमंदों तक बैड्स और ऑक्सीजन सिलिंडर्स की वैरीफाईड लीड्स पहुंचाई।

रोहित कपूर, डायरेक्टर मार्केटिंग, परफेट्टी वैन मेल्ले इंडिया ने कहा, “अपनी इस पहल के माध्यम से हम युवाओं की क्षमता पर रोशनी डालना चाहते थे। युवा हमेशा से हमारी सोच का अभिन्न हिस्सा रहे हैं। इस साल हमने कोविड-19 के दौरान युवाओं के ज़ज़्बे और समर्पण को सलाम करने का फैसला लिया। एमटीवी के साथ साझेदारी में कृस्ना के गीत के बोल ब्राण्ड के अद्भुत दृष्टिकोण को दर्शाते हैं।“

इस अवसर पर कृस्ना ने कहा, “मेरा हमेशा से मानना है कि युवा पीढ़ी बदलाव का मुख्य कारक रही है। हमें गर्व है कि युवाओं महमारी के दौरान किस तरह एकजुटता का प्रदर्शन किया, उनकी यह भावना हम सभी को प्रेरित करती है। युवा पीढ़ी के इसी ताज़गी और आत्मविश्वास से भरे दृष्टिकोण ने मुझे ’ताज़ी सांस, ताज़ी सोच’ लिखने के लिए प्रेरित किया। मुझे खुशी है कि इस टै्रक के लिए मुझे सेंटर फ्रेश और एमटीवी के साथ साझेदारी को मौका मिला है, यह गीत आज के युवाओं और उनकी क्षमता को समर्पित है।“

गीत के बोल दर्शाते हैं कि किस तरह जनरेशन ज़ी हर स्थिति का मुकाबला उत्साह और जोश के साथ करती है। परफेट्टी वैन मेल्ले इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और वेवमेकर इंडिया ने एमटीवी इंडिया के सहयोग से यह अवधारणा पेश की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: